जानिए क्या है Paytm Payments Bank - Nazariya Now

HIGHLIGHTS

Tuesday, May 23, 2017

जानिए क्या है Paytm Payments Bank

23 मई 2017 को पेटीएम ने  भारत में अपना पेमेंट बैंक लॉन्च कर दिया। कंपनी ने अख़बारों और अपनी ब्लॉग पोस्ट में एक पब्लिक नोटिस जारी कर यह जानकारी दी। नोटिस के मुताबिक, पेटीएम के वॉलेट बिज़नेस को कंपनी के नए प्रोडक्ट पेटीएम पेमेंट बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) को ट्रांसफर कर दिया गया है। पेटीएम द्वारा पिछले साल दीवाली के आसपास पेटीएम पेमेंट बैंक शुरू करने की योजना थी।

2015 में, आरबीआई ने पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा समेत 10 दूसरे लोगों को पेमेंट बैंक बनाने के लिए अनुमति दी थी। लेकिन अभी तक पेटीएम के अलावा, सिर्फ एयरटेल के पेमेंट बैंक ही चल रहे हैं।

अगर आप भी एक पेटीएम वॉलेट यूज़र हैं, और नवंबर से अभी तक पेटीएम वॉलेट इस्तेमाल करने वालों की संख्या में तेजी से बढ़ोत्तरी हुई है। अगर आप भी सोच रहे हैं कि यह बदलाव किस तरह आपको प्रभावित करेगा तो इस बारे में सब कुछ यहां जानें।

सभी पेटीएम वॉलेट अकाउंट अपने आप नए पेमेंट बैंक में माइग्रेट हो जाएंगे। अगर आप बैंक में माइग्रेट होना नहीं चाहते तो आपको help@paytm.com पर ईमेल करना होगा या paytm.com/care पर जाकर ऑप्ट आउट का विकल्प चुनना होगा। और फिर बचे हुए बैलेंस को रिडीम करने के लिए अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करना होगा।

Paytm Payments Bank लिमिटेड (पीपीबीएल) के साथ आपका अकाउंट  एक वॉलेट ही रहेगा, ना कि एक बैंक अकाउंट। जो अकाउंट पिछले छह महीने से एक्टिव नहीं हैं और ज़ीरो बैलेंस वाले हैं उन्हें बिना ऑप्टिंग-इन के पीपीबीएल में ट्रांसफर नहीं किया जाएगा। वॉलेट अकाउंट के अलावा, यूज़र एक पेटीएम पेमेंट बैंक सेविंग या करंट अकाउंट भी खोल पाएंगे। हालांकि, दोनों का लॉगइन एक जैसा ही होगा, लेकिन आपको एक अलग बैंक अकाउंट खोलने की जरूरत पड़ेगी।

पेटीएम पेमेंट्स बैंक अभी बीटा फेज़ में है और इसे कर्मचारियों व साझेदारों को जारी किया जा रहा है। इसके अलावा दूसरे लोग भी बैंक में अकाउंट धारक बनने के लिए इनवाइट की रिक्वेस्ट भेज सकते हैं। इन अकाउंट की लिमिट प्रति ग्राहक एक लाख रुपये है। और यह वॉलेट से अलग है क्योंकि यह डेबिट कार्ड और ब्याज ऑफर करता है।

एक Paytm Payments Bank अकाउंट के लिए, आपको पेटीएम बैंक पेज पर जाना होगा और इसके बाद 'रिक्वेस्ट एन इनवाइट' पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपसे अपने पेटीएम अकाउंट में साइनइन करने को कहा जाएगा। एक बार ऐसा करने के बाद एक अकाउंट होल्डर बनने के लिए आपकी रुचि को स्वीकार कर लिया जाएगा।

अगर आप अपने पेटीएम पेमेंट बैंक में 25,000 रुपये से ज़्यादा ट्रांसफर करते हैं तो, आपको 250 रुपये (एक प्रतिशत) का कैशबैक अधिकतम चार बार मिलेगा। बैंक अकाउंट में न्यूनतम बैलेंस रखने की कोई लिमिट नहीं है। इसके अलावा ऑनलाइन ट्रांज़ेक्शन (जैसे कि आईएमपीएस, एनईएफटी, आरटीजीएस) के लिए भी कोई शुल्क नहीं देना होगा।

एक वॉलेट और एक पेमेंट बैंक के बीच सबसे बड़ा फर्क है पेमेंट बैंक द्वारा ऑफर किए जाने वाले ब्याज का। पेटीएम बैंक वार्षिक तौर पर 4 प्रतिशत का ब्याज देगा।  इसके अलावा, वॉलेट से अलग, पेमेंट बैंक डेबिट कार्ड (क्रेडिट कार्ड नहीं) भी ऑफर करते हैं। पेटीएम की वेबसाइट के अनुसार, पेटीएम पेमेंट बैंक बहुत कम शुल्क में एक चेकबुक, डिमांड ड्राफ्ट और डेबिट कार्ड भी उपलब्ध कराएगा। मज़ेदार बात है कि एयरटेल कोई फिज़िकल डेबिट कार्ड ऑफर नहीं कर रही है, लेकिन ऑनलाइन एक वर्चुअल कार्ड उपलब्ध है।

पेटीएम बैंक एक रूपे डेबिट कार्ड जारी करेगी, जो कि मुफ्त होगा। लेकिन इसके लिए 100 रुपये + वार्षिक शुल्क के तौर पर डिलीवरी चार्ज देना होगा। इसके अलावा कार्ड खोने पर भी 100 रुपये + डिलीवरी शुल्क देना होगा। 10 चेक वाली एक चेकबुक की कीमत भी 100 रुपये + डिलीवरी शुल्क के बराबर ही होगी।

पेटीएम अपने एटीएम की शुरुआत नहीं कर रही है। हालांकि, इसके डेबिट कार्ड को बिना किसी शुल्क अदा किए नॉन-मेट्रो एटीएम में पांच बार तक इस्तेमाल किया जा सकता है, और मेट्रो एटीएम में तीन बार। इसके बाद हर बार कैश निकालने पर 20 रुपये शुल्क देना होगा, जबकि बैलेंस चेक करने जैसे दूसरे ट्रांज़ेक्शन के लिए 5 रुपये शुल्क लगेगा।  और कैसे

No comments:

Post a Comment