HIGHLIGHTS

Sunday, September 23, 2018

Friday, September 14, 2018

नज़रिया - हिन्दी दिवस

September 14, 2018
आज हिन्दी जिस बुरे दौर से गुजर रही है हम इस के गवाह भी है और गुनाहगार भी। हिन्दी बोलने और पढने वालो को आज देश में अनपढ गंवार, मीड़िल क...

Monday, September 10, 2018

डॉलर अंडरवियर नहीं अमरीकी डॉलर महंगा हुआ है, 72.55 रु का हो गया है - ✍ रवीश कुमार

September 10, 2018
सोमवार को 12 बज कर 03 मिनट पर डॉलर ने भारतीय रुपये को फिर धक्का दिया है. इस समय पर रुपये का भाव ऐतिहासिक रूप से नीचे चला गया. एक डॉलर 72 र...

Sunday, September 2, 2018

मैच फिक्सिंग (लघुकथा) - लेखक : डॉ. चंद्रेश कुमार छतलानी

September 02, 2018
"सबूतों और गवाहों के बयानों से यह सिद्ध हो चुका है कि वादी द्वारा की गयी 'मैच फिक्सिंग' की शिकायत सत्य है, फिर भी यदि प्रतिव...

Monday, August 27, 2018

साक्षात्कार भाग 02 : 'कौवों का हमला' उपन्यास लेखक श्री अजय कुमार सिंह 'रावण

August 27, 2018
'कौवों का हमला' उपन्यास लिखने के बाद टेलीविज़न जगत के जाने माने लेखक अजय कुमार सोशल मीडिया पर सक्रीय हैं। इस माध्यम से अजय जी अधिक...

Sunday, August 26, 2018

परसाई होते तो क्या मॉब लिंचिंग से, आवारा भीड़ के खतरों से बच पाते? ✍ प्रियदर्शन

August 26, 2018
हरिशंकर परसाई खुशकिस्मत थे कि 1995 में ही चले गए. अगर आज होते तो या तो मॉब लिंचिंग के शिकार हो गए होते या फिर जेल में सड़ रहे होते या फिर ...

Friday, August 24, 2018

यादों में कुलदीप नैयरः शमा हर रंग में जलती है सहर होने तक... ✍ रवीश कुमार

August 24, 2018
मिर्ज़ा ग़ालिब की शमा की तरह कुलदीप नैयर हर लौ में तपे हैं, हर रंग में जले हैं. शमा के जलने में उनका यक़ीन इतना गहरा था कि 15 अगस्त से...

Tuesday, August 14, 2018