HIGHLIGHTS

Sunday, March 18, 2018

कॉमिक्स के प्रति प्यार और जुनून से हुई ''फैन मेड कॉमिक्स'' (FMC) की शुरुआत

भारत में कई कॉमिक्स कंपनियां / पब्लिशर्स मौजूद हैं जिनके द्वारा कॉमिक्स और ग्राफ़िक नॉवेल का प्रकाशन किया जाता है।  देश में कॉमिक्स कल्चर को बनाये रखने में सिर्फ कॉमिक्स कंपनियां / पब्लिशर्स का ही योगदान नहीं है बल्कि इनके साथ कॉमिक्स फैंस का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा है। कॉमिक्स के प्रति लगाव और जूनून के कारण कॉमिक्स फैंस ने देश में कॉमिक्स कल्चर को ख़त्म नहीं होने दिया उसके लिए लगातार मेहनत कर रहे हैं।  कॉमिक फैंस विभिन्न माध्यमों के द्वारा लगातार देश में कॉमिक्स कल्चर को  बनाये रखने और उसे बढ़ावा देने के लिए काम कर रहे हैं। ऐसे ही जुनूनी फैंस हैं बलविंदर सिंह जी   जिन्होंने कॉमिक्स के प्रति अपने प्यार और जुनून के लिए स्वयं ही कॉमिक्स बनाना शुरू की।  वर्तमान में बलविंदर सिंह जी ''फैन मेड कॉमिक्स'' के बैनर से कॉमिक्स बना रहे हैं।  उनकी टीम द्वारा कई कॉमिक्स का निर्माण किया गया है।  वर्ष 2017 में बलविंदर सिंह जी और उनकी टीम को अपने बेहतरीन काम के लिए Indian Comics  Fandom द्वारा बेस्ट फैन वर्क केटेगरी में Silver Award दिया गया है।  आइये बलविंदर सिंह जी से उन्ही के शब्दों में FMC की शुरआत से लेकर अभी तक के सफर और भविष्य के प्रोजेक्ट्स के बारे में जानते हैं।

Fan Made Comics (FMC) की शुरुआत एक तत्काल लिया गया फ़ैसला था। दरअसल मैंने ध्रुव और डोगा की एक ऐड को एडिट कर ध्रुव को शक्तिमान बनाया और कॉमिक की एक ऐड बनाई। और उसे एक फेसबुक ग्रुप में पोस्ट किया। सुबह तक उस पोस्ट पर 100+ likes थे जिसने मुझे यह कॉमिक्स बनाने के लिए प्रेरित किया। उस ऐड का नाम ''सेर सवा सेर'' था जिसे 98 पृष्ठ में बनाने का दावा किया था मैंने। शुरुआत मैंने और मेरे भाई ने आर्टवर्क से बनाने का फैसला लिया। पर उसका और मेरा आर्ट इसके लिए नाकाफी था। कारण यह था कि हम देख कर किसी भी आर्ट को वैसा ही बना सकते हैं पर हमारी अपनी कल्पना क्षमता शून्य है। अतः इस बात ने मुझे फोटोशॉप विकल्प की ओर प्रेरित किया। अप्रैल 2016 में मैंने इसे स्टार्ट किया और जुलाई 2016 को हमने इसे रिलीज किया।

फिर नेक्स्ट कॉमिक्स के लिए मेरे भाई को जॉब लग गई और एक मित्र और था जो हमारे लिए एक्शन सीन खोजता था, उसे भी जॉब के चलते मेरा साथ छोड़ना पड़ा और FMC के सफ़र में मैं अकेला पड़ गया। पर मैंने उसके बाद बैक टू बैक दो लगातार कॉमिक दी , डेढ़ और दो माह के अंतराल में। फिर हुकम महेन्द्रा भाई जूनून की इस जंग में मेरे साथ उतरे और मुझे उसके रूप में एक हौसला मिल गया। हालाँकि वह अलग प्रोजेक्ट पर काम करता रहा पर फिर भी मुझे एक हौसला मिला कि मुझे अगले भाग के लिए पर्याप्त समय मिल रहा था।



हम दोनों ने मिलकर FMC को एक बुलंदी पर पहुँचाया। इस बीच ब्रह्मा पटेल से मेरी जान पहचान हुई जो कहानियां लिखते हैं। उन्हीं का एक प्रोजेक्ट ''विनाशक'' का प्रथम भाग FMC पर रिलीज़ किया गया पर अभी तक उसका द्वितीय भाग तैयार नहीं किया गया है। ''मास्टर शनि'' का भी प्रथम भाग हाल ही में रिलीज किया गया है। इसके अलावा मेरी ''सेर सवा सेर सीरीज'' और हुकम भाई की ''ऐलान-ए-जंग'' भी रिलीज की गई। सेर सवा सेर के चार भाग थे-सेर सवा सेर, राइज ऑफ़ डार्कनेस, शह और मात, कंक्लूजन। ऐलान ए जंग सीरीज के दो भाग थे-ऐलान & जंग। अब तक यह FMC के प्रोजेक्ट रिलीज किये गए हैं। हमारे आगामी कुछ प्रोजेक्ट जिनकी घोषणा कर दी गई है और जिन पर काम चल रहा है वह हैं- Apocalypse, आरम्भ (अंगारा उद्गम सीरीज), Earth 420, महाप्रलय।

इसके अलावा हमारे कुछ पात्र हैं जो जल्द से जल्द लाने का प्रयास है। 
1. भरत  : यह समयधारा को नियंत्रित कर सकने वाला हीरो है।
2. रफ़्तार सिंह : यह एक अमर पर शापित हीरो है जो पूर्णतः सिख वेशभूषा में है।
3. अलग : यह एक हाइब्रिड पशुमानव है जो इंसान, डायनासौर की एक प्रजाति, जेलीफ़िश, और एक एलियन जीव के डी.एन.ए को मिलाकर बनाया गया है।

FMC द्वारा निर्मित सभी कॉमिक्स singhcomicsworld.blogspot.in पर उपलब्ध हैं।

3 comments:

  1. सब फैन्स के प्रेम और सहयोग के चलते fmc ने बहुत ही नाम कमाया है। जिसके लिए सब कॉमिक्स प्रेमियों का तहेदिल से धन्यवाद। साथ ही मित्र शहाब जी का धन्यवाद जिन्होंने fmc का हौसला अफ़जाई के लिए यह सुन्दर इंटरव्यू और लेख लिखा।

    ReplyDelete