HIGHLIGHTS

Saturday, June 16, 2018

विजेता - कहानी लिखो प्रतियोगिता - Freelance Talents Championship 2018

कहानी को ज़हन में उमड़ते असंख्य विचारों का ऐसा अर्क कहा जा सकता है जो सीधे मन पर मरहम की तरह काम करती है। कभी किसी भावना को जगाती तो कभी कोई नया एहसास करवाती। जहाँ इंटरनेट ने कई लेखकों को बड़ा मंच दिया है वहीं इतनी भीड़ में कई रचनात्मक आवाज़ें कहीं दब सी जाती हैं। इस कारण छुपी रचनात्मकता को बढ़ावा देने के लिए नज़रिया नाउ और फ्रीलांस टैलेंट्स ने मार्च से मई 2018 के बीच कहानी लिखो प्रतियोगिता का आयोजन किया।
प्रतियोगिता जीतने वाले लेखक को Freelance Talents Championship 2018 का बहुप्रतीक्षित ख़िताब भी मिलेगा। कई नये और स्थापित लेखकों ने अपनी मनमोहक कहानियाँ भेजकर प्रतियोगिता में चार चाँद लगा दिये...साथ ही निर्णायक मंडल का काम मुश्किल कर दिया। एंट्री में नाम या प्रारूप ना होने के कारण कुछ प्रविष्टियां निरस्त की गयीं। हमें पता है की रचनात्मकता की कोई सीमा नहीं और इसको किसी संख्या में नापा नहीं जा सकता पर अपने अनुभव के आधार पर निर्णय लेने की कोशिश की है। सभी रचनाकारों को हमारी शुभकामनाएं! आशा है जो लेखक इस बार पहली पंक्ति में नहीं आ पाये वो भविष्य में इस पंक्ति में होंगे।


नजरिया नाउ कलम-कलाकार 2018 विजेता 
Freelance Talents Championship 2018 Winner
हिमांशु मिश्र  'मानस'  (कहानी - परित्यक्ता)
कहानी लिंक 




नजरिया नाउ कलम-कलाकार 2018 उपविजेता
Freelance Talents Championship 2018 Runner-up (Silver)
डॉ. चंद्रेश कुमार छतलानी (कहानी - आत्मा का वस्त्र) 
कहानी लिंक 



  नजरिया नाउ कलम-कलाकार 2018 उपविजेता
Freelance Talents Championship 2018 Runner-up (Bronze)
ध्रुव सिंह 'एकलव्य' (कहानी - मौन विलाप)
कहानी लिंक


 विजेताओं को बधाई एवं शुभकामनायें।  
 ©Nazariya Now


2 comments:

  1. सभी विजेता रचनाकारों को बधाई एवम् शुभकामनायें

    ReplyDelete
  2. सभी रचनाकारों को बधाई। रचनात्मकता जितनी चाहिए। लेखक तो एक माध्यम मात्र है। असंख्य शुभकामनाएं।
    सादर

    ReplyDelete